Rhythm

Beacon Of Hope

Flickering the bay
Shocking my core
Under the hoax of biblical lies
Sounding like a haunting lullabay
I shush my senses
With light and hope

Rhythm Society

खुली किताब – An Open Book

पन्नों के मोड़े हुए कोनों में फंसे दिल का ख़ाब हूँ //
गुफ़्तगू से चुराए आँसुओं का सैलाब हूँ… //

साथ रची तुम्हारी कविता हूँ…
वो कहती है – मैं खुली किताब हूँ।